Admission, career, scope, jobs and salary in Mass Communication course

Mass communication कोर्स के माध्यम से आप जन संचार क्षेत्र में जा सकते है, कुछ छात्र 12वीं के बाद मास कम्युनिकेशन कोर्स करने के बारे में सोचते हैं, तो उनके लिए यह कोर्स बेस्ट है| इस कोर्स के माध्यम से आप यह सीखते हैं, कि कैसे एक ही समय में संस्थाओं और व्यक्तियों से संबंधित जानकारी, पूरी दुनिया में संचार या स्थानान्तरण किया जाता है। यह सूचनाएं आम तौर पर अखबारों, किताबों, पत्रिकाओं, वेबसाइटों, ब्लॉगों, रेडियो, फिल्म और टेलीविजन का उपयोग कर स्थानान्तरित की जा सकती है| यह कोर्स उन छात्रों के लिए उभरते कैरियर क्षेत्रों में से एक है जो इसे अपने उच्च कैरियर विकल्प के रूप में चुनते हैं।

Mass communication में एडमिशन, स्कोप, करियर, नौकरियां और सैलरी की पूरी जानकारी

मास कम्युनिकेशन कोर्स की अवधि बैचलर डिग्री में तीन साल होती है,इस कोर्स के माध्यम से आप आमतौर पर विज्ञापन, पत्रकारिता, संचार कौशल, जनसंपर्क, मनोविज्ञान, समाजशास्त्र, राजनीति विज्ञान, मीडिया साक्षरता और सामूहिक मीडिया के प्रकार पर छूने वाले उन पाठ्यक्रमों सहित विभिन्न प्रकार के पाठ्यक्रमों का पढ़ते हैं| अगर आपको लेखन का शौक है, और आप चीजों को एक प्रभावी ढंग से पेश कर सकते हैं, अगर आप चुनौतियों का सामना करना चाहते हैं, और आपके पास उत्कृष्ट संचार कौशल है, तो जन संचार में कैरियर आपके लिए बेस्ट है |

Mass communication में एडमिशन:

इस कोर्स में एडमिशन लेने के लिए छात्र की योग्यता..

  • मास कम्युनिकेशन कोर्स स्नातक पाठ्यक्रमों में भाग लेने वाले छात्रों को किसी भी बोर्ड से कक्षा बारहवीं के सफल समापन की आवश्यकता होती है।
  • कुछ विश्वविद्यालय और कॉलेजों में कक्षा 12 वीं में अंकों के आधार पर छात्रों को बाद प्रवेश करते हैं।
  • मास कम्युनिकेशन कोर्स  विज्ञान/ कॉमर्स/ आर्ट्स कोई भी कर सकता है|
  • योग्यता परीक्षाओं में किए गए अंकों के आधार पर भी आप विभिन्न पाठ्यक्रमों में प्रवेश ले सकते हैं|
  • कुछ  कॉलेजों में प्रवेश लेने के लिए प्रवेश परीक्षा करवाई जाती है|

भारत में  मास कम्युनिकेशन कुछ टॉप कॉलेज:

कुछ मास कम्युनिकेशन कोर्स के टॉप कॉलेजों की सूची दी गयी है…

        • Symbiosis Institute of Mass Communication, Pune
        • AJK Mass Communication Research Centre, Jamia Millia Islamia, New Delhi
        • Indian Institute of Mass Communication, New Delhi
        • Asian College of Journalism, Chennai
        • Makhanlal Chaturvedi National University of Journalism and Communication, Bhopal
        • Xavier Institute of Communication (XIC), Mumbai
        • Indian Institute of Journalism and New Media, Bangalore
        • Amity School of Communication, Noida
        • Delhi College of Arts and & Commerce, New Delhi
        • Christ University, Bangalore
        • Manipal Institute of Communications, Manipal

जनसंचार(Mass Communication) और पत्रकारिता(Journalism) के बीच अंतर:

जब हम “पत्रकारिता” के बारे में बात करते हैं तो इसका मतलब है कि मुद्रित लेख, ब्लॉग, और टेलीविज़न सहित विभिन्न माध्यमों द्वारा जानकारी पेश करने का एक तरीका है। जबकि पत्रकार एक ऐसा व्यक्ति  होता है जो सूचना के लिए खोज, संपादन, लेख लिखने और प्रस्तुत करने के सभी कार्यों को करता है, इस प्रकार हम कह सकते हैं कि पत्रकारिता जन संचार का एक अभिन्न अंग है|

मास कम्युनिकेशन कोर्स में पढाई जाने वाली कुछ महत्वपूर्ण किताबें:

  • Mass Communication in India (4th Edition) by Keval J. Kumar
  • Mass Media And Communication In Global Scenario by Ratnesh Dwivedi
  • Cases in Communications Law by John D Zelezny
  • Media Planning: A Practical Guide by Jim Surmanek
  • Media/Impact: An Introduction to Mass Media by Shirley Biagi
  • Mass Communication Theory: Foundations, Ferment, and Future by Stanley J. Baran
  • Introduction to Mass Communication: Media Literacy and Culture by Stanley J. Baran

Mass Communication के बाद करियर और स्कोप:

अपनी  मास कम्युनिकेशन की पढाई पूरी करने के बाद आप…

      • जन संचार में अपनी डिग्री पूरी करने के बाद, आप रिपोर्टिंग, लेखन, संपादन, प्रसारण या केबल कास्टिंग समाचार आइटम और कई अन्य समान कार्य प्रोफ़ाइल जैसे विभिन्न क्षेत्रों में काम कर सकते हैं। पत्रकारिता के दो प्रकार होते हैं जिसमें आप काम कर सकते हैं,पहले एक प्रिंट जर्नलिज़्म और दूसरा इलेक्ट्रॉनिक (ऑडियो / विज़ुअल) पत्रकारिता है|
      •  प्रिंट जर्नलिज़म में आप अखबारों, पत्रिकाओं में नौकरियों का लाभ ले सकते हैं|
      • और संपादक, संवाददाता, स्तंभकार, संवाददाता आदि के रूप में काम कर सकते हैं।
      • इलेक्ट्रॉनिक पत्रकारिता में आप रेडियो, टेलीविजन और वेब के लिए काम कर सकते हैं।
      • आप पत्रकारिता में अपना कैरियर बना सकते हैं, जो एक उच्च वेतन और प्रतिष्ठित व्यवसाय है।
      • विभिन्न स्रोतों से विभिन्न समाचारों को इकट्ठा करने में दिलचस्पी रखने वालों के लिए सबसे अच्छा काम है|
      • भारत के बाहर रोजगार के अवसर प्राप्त कर सकते हैं|
      • मास कम्युनिकेशन क्षेत्र में भी आप पोस्ट ग्रेजुएशन कर सकते है|

MA(Mass Communication) के बाद जॉब प्रोफाइल:

इस क्षेत्र में प्रमुख रोजगार प्रोफाइल हैं:

  • टीवी एंकर(TV Anchor)
  • समाचार संपादक(News Editor)
  • वरिष्ठ पत्रकार(Senior Journalist)
  • जूनियर पत्रकार (Junior journalist)
  • स्क्रीन लेखक(Screen Writer)
  • बड़े पर संपादक (Editor at large)

MA(Mass Communication) के बाद सैलरी:

मास कम्युनिकेशन कोर्स पूरा करने के बाद आपकी सैलरी आपके कौशल और अनुभव पर निर्भर करती है, जैसे अगर आप एक संवाददाता या समाचार रिपोर्टर के रूप में अपना करियर शुरू करते हैं, तो आपकी सैलरी 10,000 रुपये से 20,000 तक हो सकती है, और कुछ अनुभव के बाद आप एक संपादक या एक एंकर के रूप में काम कर सकते हैं, तो आपकी सैलरी  25,000 से 40,000 और यदि आपके पास किसी विशेष क्षेत्र में पर्याप्त अनुभव और विशेषज्ञता है, तो आपकी सैलरी इससे अधिक भी हो सकती है|

Check Here all courses after 12th arts

all courses after 12th commerce

 all courses after 12th science

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here